Hindi Stories For Kids

Best Hindi Short Stories
Short Stories In Hindi
Hindi Stories

Hindi Stories For Kids has brought a new collection of short stories in hindi. We keep in mind the proper lucidity and flow of language. Kids & adult do enjoy reading short stories, but does they anything from it. That’s why we have written some best Hindi Stories For Kids with moral. So your children’s can learn something new everytime they read Hindi Stories For Kids.

Hope you will enjoy reading Hindi Stories For Kids.

1. लालची किसान 

एक बार की बात है, एक किसान और उसकी पत्नी एक गांव में रहते थे एक दिन उन्हें एक मुर्गी मिली वह हर रोज एक सोने का अंडा देती थी। वह बहुत ही लालची थे और बहुत ही जल्दी अमीर होना चाहते थे। एक दिन उन्होंने सोचा कि ऐसा कुछ करते हैं जिससे हम एक दिन में ही अमीर हो जाएं। किसान ने अपनी पत्नी से कहा कि अगर यह मुर्गी रोज एक सोने का अंडा देती है तो जरूर ही वह अंदर से सोने की बनी होगी। उन्होंने सोचा कि अगर हम इस मुर्गी को मार कर इसके अंदर का सोना निकाल ले तो हम जल्द ही धनी बन जाएंगे। उन्होंने मुर्गी को मारने की ठान ली। पर जब उन्होंने उसे काटा तो देखा कि वह अंदर से बाकी मुर्गियों की तरह ही है उसके अंदर कोई सोना नहीं है और वह अपनी किस्मत को कोसने लगे।

शिक्षा:- जितना मिले उतने में ही खुश रहना चाहिए लालच नहीं करनी चाहिए।

2. ख्याली पुलाव :-

एक गांव में , राधा नाम की एक दूध बेचने वाली लड़की रहती थी। वह रोज दूध की बाल्टी सर पर रख कर बाजार जाया करती थी। वह चलते-चलते हिसाब लगान लगाने लगी की इस दूध से कमाए हुए पैसे का मैं क्या क्या खरीदूंगी। उसने सोचा पहले तो मैं किसान से कुछ मुर्गियां खरीदूंगी फिर वे मुर्गियां हर सुबह अंडे देंगी। मैं उन अंडों को पार्सन की पत्नी को बेच दूंगी ।

फिर उससे जो पैसे मिलेंगे मैं उससे एक फ्रॉक और एक टोपी खरीदूंगी। उसे पहनने के बाद मैं इतनी खूबसूरत लाऊंगी की सब लोग मुझसे बात करने की कोशिश करेंगे। और मेरी पड़ोसन रानी मुझसे जल जाएगी पर मैं उसकी तरफ देखूंगी भी नहीं और यह सोचते हुए वह जोर से अपना सर दूसरी ओर मोडती है तभी उसके सर पर रखी बाल्टी नीचे गिर जाती है और उसका सारा दूध जमीन पर बह जाता है।

शिक्षा :- इससे हमें यह सीख मिलती है कि ख्याली पुलाव पकाने से सपने पूरे नहीं होते। 

Also Read :- Moral Stories In Hindi For Kids

3. कौवा चला मोर बनने:-

एक कौए ने मोर के बहुत सारे पंख इकट्ठे किए और अपने बदन पर लगा दिए। उसे अपना नया रूप बहुत अच्छा लगा और उसने निश्चय किया कि मैं आब कौओं के साथ नहीं बल्कि मोरो के साथ रहेगा। इसके बाद वे अपने साथियों की तिरस्कार करके चला गया और मोरों के झुंड में रहने की कोशिश करने लगा।

हालांकि मोरों को तुरंत समझ में आ गया कि एक कौवा उनके बीच है उन्होंने अपनी चोंच से कौवे के बदन पर लगे सारे मोर पंख उतार दिए और उसका बहुत मजाक उड़ाया। अपमानित और दुखी होकर वह अपने पुराने साथियों के पास वापस लौट गया। तभी सारे कौवे सिर हिलाते हुए उसके पास आ गए और कहने लगे ” तुम बहुत मूर्ख जीव हो अगर तुम अपने पंखों से संतुष्ट होते तो तुम्हें दूसरों से बेज्जती नहीं सहनी पड़ती और ना ही अपने ही साथियों से घृणा होती।”

शिक्षा:- इस से हमें यह शिक्षा मिलती है कि हमें किसी की देखा सीखी नहीं करनी चाहिए।

4. कपटी बाज़:-

एकबार एक पेड़ पर एक बार रहता था उस पेड़ की खोह में एक लोमड़ी अपने दो बच्चों के साथ रहती थी। एक दिन जब लोमड़ी अपने बच्चों के लिए खाना ढूंढने बाहर निकली तो बाज़ ने अपने बच्चों का पेट भरने के लिए उस खोंह में घुसकर उसके बच्चों को उठाकर ले गया। जब लोमड़ी लौटी उसने देखा की उसके बच्चे वहां नहीं है।

उसने बाज़ से अनुरोध किया कि वे उसके बच्चे लौटा दे मगर बाज ने उसे नजर अंदाज कर दिया क्योंकि वह जानता था कि लोमड़ी ऊपर वाली टहनी तक नहीं पहुंच सकता। लोमड़ी पास वाले मंदिर में गई और वहां से एक जलती हुई लकड़ी लेकर आई उसने पेड़ के नीचे आग लगा दी । बाज को उसकी गर्मी और धुंआ बर्दाश्त नहीं हुआ उसने अपने बच्चों की जान बचाने के लिए लोमड़ी के बच्चों को वापस कर दिया।

शिक्षा:-किसी को बिना जाने उस पर विश्वास नहीं करना चाहिए।

Also Read:- Short Stories For Kids

5. लालची कबूतर :-

एक बार की बात है किसी जंगल में एक बड़ा सा पेड़ था। उस पेड़ पर बहुत से पक्षी आकर विश्राम करते थे । एक दिन एक बहेलिया ने वहां पक्षी पकड़ने की इच्छा से कुछ दाने फैला दिए और उसके ऊपर जाल बिछा दिया और दूसरे पेड़ के पीछे जाकर छुप गया। कुछ समय पश्चात वहां एक कबूतरों का झुंड आकर विश्राम करने लगा तभी उनकी नजर चावला पर पड़ी और उनकी भूख जाग उठी।

उन्होंने दाना चुगने की ठान ली उनके मुखिया ने उन्हें सचेत किया कि इन दानों के पीछे कोई चाल लगती है। इसलिए मेरी सलाह है कि तुम दाने चुनने ना जाओ। उनमें से एक ने भी मुखिया की बात नहीं मानी और जाल में फंस गए । तभी मुखिया के आदेश पर सारे कबूतर एक ही दिशा में उडने लगे और वह बहेलिया देखता ही रह गया। वह सभी मुखिया के दोस्त चूहे के घर गए और उसके पहने दातों से अपना जाल कटवाया और नन्हे चूहे का धन्यवाद किया ।फिर सारे कबूतर खुले आसमान में उड़ गए । इसलिए हमें लालच नहीं करनी चाहिए वरना हम कबूतरों की तरह संकट में पड़ सकते हैं।

शिक्षा:-एकता में ही शक्ति है।

6. चतुर किसान:-

एक बार एक किसान एक बकरी एक शेर और एक खास का गट्टा लिए नदी के किनारे खड़ा था। उसे नदी पार करनी थी परंतु उसकी नाव बहुत छोटी थी वह एक बार में सब को लेकर नदी नहीं पार कर सकता था। वह अगर शेर को पहले लेकर जाता तो बकरी घास खा जाती है और अगर घास को लेकर जाता तो शेर बकरी को खा जाता। इसीलिए उसने कुछ देर सोचा और एक तरकीब निकाली।

सबसे पहले उसने बकरी को नाम में बैठाकर दूसरी ओर छोड़ आया। दूसरी बार में उसने शेर को नदी के दूसरी तरफ छोड़ दिया परंतु लौटते वक्त बकरी को भी अपने साथ ले आया। उसने इस बार बकरी को नदी के इसी किनारे पर छोड़ दिया और खास को लेकर दूसरे किनारे पर छोड़ आया। किसान एक बार फिर अपनी नाम लेकर इस बार आया और बकरी को भी अपने साथ ले गया। इस प्रकार से उसने बिना किसी हानी के नदी को पार किया।

शिक्षा:- इस से हमें यह शिक्षा मिलती है कि हम अपनी बुद्धिमानी एवं धैर्य से काम लेना चाहिए।

Hope you enjoyed reading Hindi Stories For Kids. And fulfilled your search for better Hindi Stories For Kids.

Keep reading and enjoy. Cheers.

One Reply to “Hindi Stories For Kids”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *